Home Latest ऐक्टर से कांस्टिग डायरेक्टर बने संजय शुक्ला बिहार के कलाकारों को मौका...

ऐक्टर से कांस्टिग डायरेक्टर बने संजय शुक्ला बिहार के कलाकारों को मौका देंगे

2178
0
SHARE

BDN. शब्दों की ताकत को पहचानना बड़ा ही मुश्किल होता है लेकिन एक बार पहचान गए तो ज़िन्दगी बड़ी आसान हो जाती है।
कुछ ऐसी ही वाकया है कास्टिंग डायरेक्टर संजय शुक्ला की।

बचपन से ही अभिनेता बनने का शौक़ था संजय शुक्ला को वो खुद को फ़िल्मों में देखना चाहते थे एक सफ़ल अभिनेता बनकर अपने गाँव अपने शहर का नाम रोशन करना चाहते थे।
बस यही एक वाक्य छोटे से शहर से उठ कर मुंबई मयानगरी में एक सफ़ल अभिनेता बनने आये संजय शुक्ला को एक सफ़ल कास्टिंग डायरेक्टर बना दिया।
प्रयागराज उत्तर प्रदेश के रहने वाले संजय शुक्ला का जन्म उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के एक छोटे से गांव कुशमौल हुआ था।
संजय के लिए मुंबई तक का सफ़र तय करना बहुत मुश्किल था क्यूंकि बचपन एक ऐसे गांव में गुजारी जहां लोग फ़िल्म में रुचि रखने वालों को हेय की दृष्टि से देखा करते हैं।
वहाँ सपने देखना तो बहुत दूर की बात है।

लेकिन दिल में कुछ बड़ा करने का ख़्वाब उन्हें प्रयागराज से खींच के मुम्बई ले आयी। नया शहर नए लोग कोई उचित मार्गदर्शक भी नहीं काफी समय तक यहां वहां घूमते रहे ऑडिशन देते रहे उन्हें काम भी मिला फिर धीरे-धीरे उन्होंने काफ़ी सीरीयल में काम करके अपने अभिनय से एक अलग पहचान बनायी अपने शहर में।

आराम नगर ऑडिशन देने गया एक दिन और देखा एक रोल के लिये 4000 आर्टिस्ट की भीड़ फिर वहाँ से मैं निकल गया और जाके वर्सोवा बीच पे बैठ गया
और दिमाग में बार बार यही बातें घूम रही थी कि मैं इतनी दूर भीड़ का हिस्सा बनने नही आया हूँ।
खुद बने तो क्या बने 10 को बनाओ तो बड़ी बात फिर मैंने फ़ैसला लिया अब मैं लोगों के सपने पूरा करूँगा और जो मेरी तरह छोटे-छोटे शहरों से अपना सपना पूरा करने इतनी कैसे कैसे करके मुंबई आते है उनके लिए कुछ करूँ। वहीं से संजय ने अभिनय छोड़ कर कास्टिंग की तरफ रुख मोड़ लिया।
वहां से फिल्म जगत में आना और एक सफ़ल कास्टिंग निर्देशन बनकर क्षेत्र में कदम ज़माना बहुत ही मुश्किल था उनके लिए।
संजय शुक्ला बहुत से सीरीयल, वेब सिरीज़, ऐड की कास्टिंग की हैं।
जैसे मेरी दुर्गा, कुंडली भाग्य, सी.आई.डी, सावधान इंडिया, क्राइम पेट्रोल, अलादीन, परमावतार श्री कृष्णा, विक्रम बेताल, क्राइम अलर्ट, जैसे बहुत से सीरीयल की कास्टिंग  की है।
अब वो फ़िल्मों की तरफ़ कदम बढ़ा चुके है आपको बताना चाहूँगा संजय 2 बड़ी फ़िल्में कर रहे है इस समय जिसमें एक फ़िल्म का नाम है। वेल्कम टू बजरंगपुर जिसकी मेन कास्टिंग हो चुकी है।
बाक़ी की कास्टिंग बहुत शुरू करने वाले है जिसका ऑडिशन वो बिहार में भी करने वाले है और वो बिहार के कलाकारों को मौक़ा देना चाहतें है ताकि वो अपनी उन कलाकारों को अपना अपनी कला दिखने मौक़ा मिले एक अलग पहचान बना पाये और बिहार का नाम रोशन करे।।

संजय का कहना है मैं सिर्फ़ उन्ही को मौक़ा दूँगा जो सच में उसके क़ाबिल है।

LEAVE A REPLY