Home Big Grid कर्नाटक में की गयी लोकतंत्र की हत्या : रघुवंश

कर्नाटक में की गयी लोकतंत्र की हत्या : रघुवंश

365
0
SHARE

बीडीएन, पटना। राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सह पूर्व केन्द्रीय मंत्री डाॅ0 रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा है कि  कर्नाटका में राज्यपाल के द्वारा उठाया गया यह कदम लोकतंत्र की हत्या है। उन्होंने सुुुप्रिम कोर्ट  द्वारा एस0 आर0 वोम्बई केस में जो जजमेंट दिया गया था उसका जिक्र करते हुए कहा कि जजमेंट में कहा गया था कि अगर त्रिशंकु विधानसभा होती है तो ऐसी स्थिति में सबसे पहले राज्यपाल को चुनाव पूर्व गठबंधन वाले दल को सरकार बनाने के लिए बुलाया जाना चाहिए था अगर उनके पास बहुमत नहीं है तो चुनाव बाद बनने वाले गठबंधन को सरकार बनाने के लिए बुलाया जाना चाहिए। अगर दोनों के पास बहुमत नहीं हो तो सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने के लिए बुलाया जाना चाहिए। लेकिन कर्नाटका में यह नहीं हुआ। भारतीय जनता पार्टी एवं आरएसएस के इशारे पर राज्यपाल ने चुनाव बाद वाले बहुमत के गठबंधन को नकार कर सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने का न्यौता दे दिया और बहुमत साबित करने के लिए एक लंबा समय यानि 15 दिन देकर विधायकों को खरीद-फरोख करने का रास्ता खोल दिया। अगर राज्यपाल ने कर्नाटका में सही कदम उठाया तो बिहार में राष्ट्रीय जनता दल सबसे बड़ी पार्टी थी तो किस आधार पर जदयू एवं भाजपा गठबंधन को सरकार बनाने का न्योता दिया। अगर कर्नाटका सही थी तो बिहार का निर्णय गलत। क्या प्रधानमंत्री इस गलती के सार्वजनिक तौर पर माफी मांगेंगे और राजद को फिर से मौका दिया जायेगा?
कर्नाटका में लोकतंत्र की हत्या के खिलाफ प्रदेश राष्ट्रीय जनता दल की ओर से कल शुक्रवार दिनांक 18 मई, 2018 को एक दिवसीय धरना का आयोजन किया गया है और संविधान बचाओ अभियान को राष्ट्रव्यापी बनाया जायेगा।
इस संवाददाता सम्मेलन में राजद प्रवक्ता शक्ति सिंह यादव, राष्ट्रीय परिषद सदस्य भाई अरूण कुमार के अलावा उपेन्द्र कुमार चन्द्रवंशी, केदार यादव, मंजू सिंह एवं मो0 इसराईल मंसुरी भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY