Home Big Grid लालू प्रसाद को 14 साल की सजा,60 लाख जुर्माना

लालू प्रसाद को 14 साल की सजा,60 लाख जुर्माना

310
0
SHARE

बीडीएन डेस्क

चारा घोटाले के चौथे मामले में शनिवार को रांची की सीबीआइ कोर्ट ने 7-7 साल (कुल 14 साल) की सजा सुनायी है. साथ ही कोर्ट ने उनपर 60 लाख का जुर्माना लगाया है. जुर्माना की राशि जमा नहीं करने की स्थिति में उनकी सजा एक साल और बढ़ जायेगा. अब तक यह सबसे लंबी अवधि की सजा सुनायी गयी है. यह मामला दुमका कोषागार से जुड़ा हुआ है.

अदालत  ने लालू प्रसाद को आपराधिक षड्यंत्र गबन फर्जीवाड़ा साक्ष्य छुपाने पद के दुरुपयोग करने से जुड़ी IPC की धारा  के तहत दोषी पाया गया है. लालू प्रसाद के खिलाफ चारा घोटाले से जुड़े कुल 5 मामलों में रांची में मुकदमे चल रहा है. फिलहाल लालू प्रसाद को चारा घोटाले के देवघर कोषागार और चाईबासा कोषागार मामले में सजा सुनाया गया है. इसके बाद वह रांची के बिरसा मुंडा जेल में बंद है. राजद प्रमुख को चारा घोटाले के तीन मामलों में पहले ही दोषी करार दिया जा चुका है. उन्हें कुल मिलाकर अब तक 13.5 साल की सजा सुनाई गई है. लालू पर आरोप है कि उन्होंने 1995-96 के बीच बिहार के मुख्यमंत्री रहते हुए इस कोषागार से 3.6 करोड़ की अवैध निकासी की. इस मामले में लालू प्रसाद के साथ पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र और 19 अन्य आरोपी थे. दुमका कोषागार से अवैध निकासी मामले में कोर्ट में सुनवाई 5 मार्च को पूरी कर ली थी.

लालू प्रसाद की सजा सुनाये जाने के बाद बिहार विधानसभा में विरोधी दल के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा कि उनके पिता को साजिश के तहत फंसाया गया है.  भाजपा ने साजिश के तहत उनको इस मामले में लालू प्रसाद  को जेल में बंद रखना चाहती  है. लालू प्रसाद अगर बाहर आते हैं तो 2019 के चुनाव में भाजपा को मुंहकनी खानी पड़ेगी.

लालू प्रसाद को सजा होने के बाद तेजी से राजनीतिक घटनाक्रम बदलने लगा है. सजा सुनाये जाने के बाद भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने रांची के रिम्स में मुलाकात की और कहा कि लालू प्रसाद को जल्द इंसाफ मिलेगा.

LEAVE A REPLY