Home क्राइम शिक्षकों ने लगाई काली पट्टी, लोग निकले सड़क पर

शिक्षकों ने लगाई काली पट्टी, लोग निकले सड़क पर

503
0
SHARE

बीडीएन, रक्सौल

शहर के लक्ष्मीपुर स्थित कैम्ब्रिज पब्लिक स्कूल में गत 3 जुलाई को एके-47 से फायरिंग की घटना भूलने वाली नही है।इस घटना ने पुलिस पर दवाब बढ़ा दिया है।प्राइवेट स्कूल एन्ड चिल्ड्रेन वेलफ़ेयर सोसाइटी के द्वारा पिछले दिनों अपराधियों की गिरफ्तारी को ले कर मौन जुलूस निकाला गया।शिक्षक गण काली पट्टी बांधे, स्कूल बंद रखा,सड़क पर उतरे और थाना में पहुच कर सुरक्षा व करवाई की मांग की।स्वाभाविक है कि पुलिस की चुनौती बढ़ गई है।जब यह घटना घटी एसपी जितेंद्र राणा छूटी पर थे।तब बेतिया एसपी विनय कुमार ने यहां पहुच कर जांच की।तब लाइनर बिट्टू सिंह पकड़ा गया।एक लोजपा का झंडा लगा वाहन बरामद हुआ।तब से स्थिति यथावत है।इसी क्रम में इस घटना को ले कर एसपी जितेंद्र राणा रक्सौल पहुचे।और रक्सौल थाना में डीएसपी राकेश कुमार ,इंस्पेक्टर उग्रनाथ झा व हरैया ओपी प्रभारी कुमार रौशन समेत पुलिस अधिकारियों के साथ एक बैठक कर मामले की जानकारी ली।व समीक्षा की।पुलिस की यह बैठक गोपनीय रही।जो घण्टो चली।सूत्रों के मुताबिक,इस कांड में शामिल अपराधियों पर कारवाई की रणनीति भी बनी।हालाकि, एसपी जितेंद्र राणा ने इस बाबत कोई प्रेस कॉन्फ्रेंस नही किया।पर,उन्होंने आश्वस्त किया कि शीघ्र ही घटना में शामिल अपराधियों पर सख्त कार्रवाई होगी।बता दे कि इस घटना में कख्यात बबलू दुबे की हत्या के आरोपी व फरार अपराधी कुणाल सिंह का नाम उछला था।अब उसके आतंक ने पूर्वी चम्पारण पुलिस की नींद उड़ा दी है।बताते है कि अपराधी नेपाल में छुपे हुए हैं।इसको देखते हुए बिहार व नेपाल पुलिस संयुक्त अभियान की तैयारी में हैं।

LEAVE A REPLY