Home Big Grid इफ्तार में हंसी के भाव नहीं थे लालू-नीतीश के चेहरे पर

इफ्तार में हंसी के भाव नहीं थे लालू-नीतीश के चेहरे पर

557
0
SHARE

बीडीएन,पटना

राष्ट्रपति चुनाव का असर लालू प्रसाद के इफ्तार में साफ झलक रहा था. राष्ट्रपति चुनाव में दोनों दलों द्वारा अलग-अलग प्रत्याशियों को समर्थन किया गया है. दोनो दलों को समर्थन देने का भाव शुक्रवार को  लालू प्रसाद और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के चेहरे में साफ झलकती रही.  दोनों 30 मिनट तक पास-पास बैठे रहे पर लालू प्रसाद ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से किसी वक्त हंसकर  बात नहीं की. हजारों की निगाहे दोनों के चेहरे के इस भाव को पढ़ रही थी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लालू प्रसाद के बगल में बैठे शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी से बात करते रहे तो कभी अपनी बायीं तरफ बैठे विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी के साथ बात करते रहे. साथ बैठे लालू प्रसाद किसी भी बात में रूची नहीं ली और सीधे जनता की ओर देखते रहे.                राजद प्रमुख लालू प्रसाद के आवास 10 सर्कुलर रोड में दावते-ए-इफ्तार के आयोजन में लोगों का जलसा लगा हुआ था. चार बजे से ही रोजेदार व अन्य लोग लालू आवास की तरफ बढ़ते जा रहे थे. आवास परिसर को पूरे पंडाल से सजाया गया था. गैर एनडीए दलों की बैठक के बाद लालू प्रसाद ने राष्ट्रपति चुनाव को लेकर नीतीश कुमार से अपील की थी और कहा था कि वह पटना लौटने के बाद इफ्तार पार्टी में इस मसले पर बात करेंगे. पर जब दोनों मिले तो कोई बात नहीं हुई. साथ ही दोनों नेताओं ने इस अवसर पर किसी तरह का बयान ही दिया. इधर मीडिया के बार-बार अनुरोध के बाद दोनो गले मिले और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 10 सर्कुलर रोड से निकलकर चले गये. इधर लालू प्रसाद का पूरा परिवार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को छोडने गेट पर खड़ी उनकी गाड़ी के पास तक गया. दोनों के बीच बातचीत नहीं होने को लेकर नेताओं के बीच चर्चा भी रही कि दोनों के बीच कोई बात नहीं हुई. 10 सर्कुलर रोड के अंदर बनाये गये पंडाल में नेताओं और मंत्रियों को बैठने की व्यवस्था की गयी थी. इसमें दाहिने तरफ शिवानंद तिवारी, मीसा भारती, स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव, शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी, राजद प्रमुख लालू प्रसाद, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और सबसे बायें तरफ उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव बैठे थे.  लालू प्रसाद के आवास पर आयोजित इफ्तार में बड़ी संख्या रोजेदार, पार्टी के नेता, नगर विकास एवं आवास मंत्री महेश्वर हजारी, राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री  कृष्णनंदन वर्मा, समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा सहित समाज के सभी वर्ग के लोग मौजूद थे. उनके आवास का पूरा चप्पा -चप्पा इफ्तार में शामिल लोगों से खचाखच भरा था.

LEAVE A REPLY