Home Big Grid राज्यपाल ने बिहार को विकसित प्रदेश बनाने का आह्वान किया

राज्यपाल ने बिहार को विकसित प्रदेश बनाने का आह्वान किया

908
0
SHARE

बीडीएन, पटना.बिहार दिवस के आयोजन का मुख्य उद्देश्य आम जनता में अपनी संस्कृति, परम्परा एवं अपने महापुरूषों के प्रति सम्मान तथा कृतज्ञता का भाव जगाना होता है। इनसे भावी जीवन के लिए प्रेरणा भी मिलती है। ऐसे अवसर पर हमें संकल्प लेना चाहिए कि हम बिहारवासी अपने राज्य को विकसित राज्य के रूप मेें प्रतिष्ठित करेंगे और इसके नव–निर्माण में भरपूर योगदान देेंगे।’’ –उक्त उद्गार, महामहिम राज्यपाल श्री राम नाथ कोविन्द ने ‘बिहार दिवस–2017’ के समापन समारोह को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए व्यक्त किये।
राज्यपाल ने कहा कि धार्मिक और सांस्कृतिक रूप से भी बिहार की विशिष्ट पहचान रही है। यह भूमि महात्मा बुद्ध, भगवान महावीर और गुरू गोविन्द सिंह की पावन धरती है। यहाँ सूफी संतों की वाणी भी पूरी सदाशयता से ग्रहण की गई है, जिससे धार्मिक सद्भावना और सामाजिक बन्धुता विकसित होने के सुअवसर मिले हैं। उन्होंने कहा कि विष्व के प्राचीनतम एवं अत्यंत समृद्ध 3 विष्व विद्यालयों में से दो– नालंदा विष्वविद्यालय एवं विक्रमशिला विष्वविद्यालय बिहार में ही थे।
राज्यपाल ने कहा कि ‘बिहार दिवस’ बिहार सरकार के समावेशी विकास के संकल्प को भी प्रदर्शित करनेवाला एक महत्त्वपूर्ण आयोजन सिद्ध होता है। श्री कोविन्द ने कहा कि इस वर्ष गाँधी मैदान में पूज्य बापू से जुड़े पष्चिम चम्पारण के भितिहरवा आश्रम का स्वरूप बनाया गया है, जो हमें याद दिला रहा है कि महात्मा गाँधी का बिहार से कितना गहरा लगाव था। उन्होंने कहा कि यह वर्ष राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी के ‘चम्पारण सत्याग्रह आंदोलन’ के शताब्दी वर्ष के रूप में विशेष रूप से आयोजित किया जा रहा है।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने कहा कि बिहार दिवस के अवसर पर कॉलेजों को वाई–फाई सुविधा उपलब्ध कराना, तथा विभिन्न विभागों द्वारा गाँधी मैदान में अपने–अपने विभागों की उपलब्धियों से संबंधित प्रदर्शिनी आयोजित करना अत्यन्त प्रशंसनीय है। उन्होंने कहा कि राज्य शराबबंदी से नशाबंदी की ओर धीरे–धीरे आगे बढ़ रहा है। यह सबके हित में है।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए शिक्षामंत्री श्री अशोक चौधरी ने उच्च शिक्षा प्रक्षेत्र में सुधार के लिए राज्यपाल की विशेष पहल की प्रशंसा की। उन्होंने पारदर्शितापूर्वक नये कुलपतियों की नियुक्ति की सराहना करते हुए कहा कि राज्य सरकार शिक्षा प्रक्षेत्र को विकसित करने के लिए दृढ़संकल्पित है। कार्यक्रम में अपने विचार व्यक्त करते हुए बिहार विधान सभा में नेता–प्रतिपक्ष प्रेम कुमार ने कहा कि बिहारवासी अपने समग्र विकास के लिए एकजुट हैं और देश की प्रगति में भी भरपूर योगदान दे रहे हैं। कार्यक्रम में शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव श्री आर०के० महाजन ने स्वागत–भाषण एवं बिहार शिक्षा परियोजन के निदेशक श्री संजय सिंह ने धन्यवाद–ज्ञापन किया। राज्यपाल ने आयोजन के पूर्व बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया, जहाँ उनका स्वागत प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री व्यास जी ने किया। राज्यपाल ने बाद में समापन–समारोह में ‘बिहार गौरव गान’ के प्रदर्शन को भी देखा।

LEAVE A REPLY